गुरुवार, 16 फ़रवरी 2012

आदमी जो देता है, वही पाता  है
आदमी जो बोता है, वही काटता है
तुमने क्या दिया ? तुमने क्या पाया ?
तुमने क्या बोया ? तुमने क्या काटा ?
कभी सोचा ?

1 टिप्पणी:

  1. बेह्तरीन अभिव्यक्ति

    नब बर्ष (2013) की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    मंगलमय हो आपको नब बर्ष का त्यौहार
    जीवन में आती रहे पल पल नयी बहार
    ईश्वर से हम कर रहे हर पल यही पुकार
    इश्वर की कृपा रहे भरा रहे घर द्वार.

    उत्तर देंहटाएं